Google+ Followers

सोमवार, 10 अप्रैल 2017

एक-अनेक

अच्छा हो या हो बुरा

पाप हो या हो पुण्य

कोई कैसे जिम्मेदार हो सकता है

अकेला एक।

जबकि होते हैं शामिल इस लेन देन में

लोग अनेक।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें